हिंसा से नहीं, एकजुटता से दें जवाब राहुल

एडथाला (केरल), ६ फरवरी। मराठी और गैरमराठी के मुद्दे पर शिवसेना को उसके ग़ढ में जा कर चुनौती देने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि शिवसेना कार्यकर्ताआें का विरोध लोगों को एकजुट करके दिया जाना चाहिए न कि हिंसा के जरिए। शिवसेना के विरोध को आ़डे हाथों लेते हुए राहुल ने कहा कि शुक्रवार को जब वह मुंबई की उपनगरीय ट्रेन पर सवार हो रहे थे तो वहां १५ से २० सेना कार्यकर्ता काले झंडों के साथ थे लेकिन वहां हजारों लोग मेरे समर्थन के लिए भी आए हुए थे। बिना किसी पूर्व कार्यक्रम के राहुल एडथाला आए हुए थे। यहां उन्होंने छात्र नेताआें से कहा कि हमें इसी तरह से उनका विरोध करना चाहिए। हमें उनका विरोध हिंसा के जरिए नहीं बल्कि लोगों को एकजुट करके देना चाहिए।

No Comments to “हिंसा से नहीं, एकजुटता से दें जवाब राहुल”

add a comment.

Leave a Reply